अमेरिका में भारतीय बासमाती चावल की बोरी की मुंहमागी कीमत मिल रही है, बहुत तेजी से हो रही बिक्री

बासमाती चावल के इस बैग की ऑनलाइन बिक्री (Online Selling of Sacks) होने लगी है और इसकी कीमत सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे । यह 15 डॉलर प्रति बैग (Price Per Bag Fifteen Bags) की दर से बेची जा रही है ।

शिकागो. भारत की बासमाती चावल (Basmati Rice) की तो छोड़िए अब उसकी खाली बोरी भी धूम मचा रही है । नूरहान नाम की एक महिला ने बासमती चावल की बोरी की तस्वीर ट्वीट की और उसके बाद यह बैग ट्रेंड करने लगा । बासमाती चावल के इस बैग की ऑनलाइन बिक्री (Online Selling of Sacks) होने लगी है और इसकी कीमत सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे । यह 15 डॉलर प्रति बैग (Price Per Bag Fifteen Bags) की दर से बेची जा रही है । इसकी बैग की शिकागो में ऑनलाइन बिक्री हो रही है ।

प्लास्टिक की बोरी पर बैन के बाद अब जूट को इस्तेमाल में लाया जाता है

दरअसल, भारत में धान की खेती बड़े हिस्से में होती है और इसकी बंपर पैदावार होती है. चावल को बोरियों में भरकर स्टोर तक पहुंचाई जाती है और उसके बाद इसे होलसेल और खुदरा व्यापारी तक पहुंचाया जाता है । इस काम में पहले तो प्लास्टिक की बोरियों का ज्यादा इस्तेमाल होता था, लेकिन अब प्लास्टिक पर बैन होने से जूट की बोरियों चलन एक बार फिर से बढ़ गया है । आमतौर पर खाली होने के बाद इन बोरियों को लोग फेंक देते हैं, लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो इससे बंपर कमाई कर रहे हैं ।

नुरहान की ट्वीट हो रही है जमकर वायरल

नुरहान नाम की महिला ने इस बारे में एक ट्वीट की है, जो जमकर वायरल हो रही है । इस ट्वीट को अबतक 74 हजार लोगों ने लाइक किया और करीब 10 हजार से ज्यादा लोगों ने ट्वीट किया है । इस पोस्ट में बताया गया कि रॉयल बासमती चावल के खाली बोरी को 15 डॉलर में बेचा जा रहा है । भारत के हिसाब से देखें तो ये 1100-1150 रुपये से ज्यादा की होगी । नुराहन ने लिखा कि मुझे विश्वास ही नहीं हो रहा कि हकीकत में इस बोरी की इतनी कीमत है और लोग उसे इस दाम में खरीद रहे हैं ।

दरअसल बासमती चावल की जो बोरी ऑनलाइन 15 डॉलर की बिक रही है, वो 4.5 किलोग्राम चावल की बोरी है । इस बोरी में जिप लगाकर इसको बैग का आकार दे दिया गया है, जबकि बोरी पर प्रिटिंग पहले जैसी चावल वाली ही है । आमतौर पर भारत में ये बोरियां 10 रुपये से 50 रुपये के बीच आसानी से मिल जाती हैं, जिसमें अब जिप लगाकर उन्हें 20 गुना ज्यादा दाम पर बेचा जा रहा है ।

हालांकि सोशल मीडिया पर इस बोरी को इतनी महंगी बेचने पर इसकी आलोचना भी हो रही है । हालांकि इसकी तारीफ भी खूब हो रही है । लोगों को कहना है कि आमतौर पर ये बोरियां चावल खत्म होने के बाद खराब ही हो जाती थीं । कम से कम इस तरह इनका अच्छा इस्तेमाल होगा ।ई-कॉमर्स साइट Etsy पर इस तरह की बोरियां मिलना आम बात है। इसकी अधिकतम कीमत 60 डॉलर यानी 4000 से ज्यादा हो सकती है । वैसे देखा जाए तो कंपनी ने मुनाफे के लिए अच्छे दिमाग का इस्तेमाल किया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *